Agneepath Yojana 2022 | अग्निपथ योजना 2022

Join WhatsApp GroupJoin Now
Join Telegram GroupJoin Now
5/5 - (1 vote)

इंडियन आर्मी, एयर फोर्स और इंडियन नेवी : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया ऐलान, सेना में 4 साल के लिए भर्ती होंगे युवा

Agneepath Yojana 2022

What is Agneepath Yojana:

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 14 जून 2022 को ‘अग्निपथ भर्ती योजना” (Agneepath recruitment scheme)लॉन्च की है, जिसके तहत देश की तीनों सेनाओं में 4 साल के लिए अग्निवीरों की भर्ती होगी

अग्निपथ योजना क्या है: भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 14 जून 2022 के दिन भारत की तीनों सेनाओं के लिए ‘अग्निपथ योजना’ शुरू की है, Agnipath Yojana के तहत देश की तीनों सेनाओं में बड़ी संख्या में युवाओं की भर्ती की जाएगी, इस स्कीम के तहत उन लोगों को भारत माँ की रक्षा करने का अवसर मिलेगा जो डिफेंस सर्विस में जाना चाहते हैं. भारत के Defense Minister Rajnath Singh ने देश के तीनों सेना के सेनाध्यक्षों के नाम प्रेस नोट जारी करते हुए इस योजना के बारे में बताया है.

तीनो सेनाओं में भर्ती हो सकेंगे युवा

इस स्कीम के तहत देश की तीनों सेनाओं- थल सेना, वायु सेना और नौसेना में नए रूप में प्रवेश लेने का अवसर मिलेगा। इस योजना के तहत तीन-चार साल के अंत में, अधिकांश सैनिकों को ड्यूटी से मुक्त कर दिया जाएगा और उन्हें आगे के रोजगार के अवसरों के लिए सशस्त्र बलों से सहायता मिलेगी।

Agnipath scheme Age Limit: आयु सीमा


नई प्रणाली के तहत, जो केवल अधिकारी रैंक से नीचे के कर्मियों के लिए है (जो कमीशन अधिकारी के रूप में सेना में शामिल नहीं होते हैं), 17.5 वर्ष से 21 वर्ष की आयु के अभ्यर्थी आवेदन करने के पात्र होंगे। भर्ती के मानक वही रहेंगे और भर्ती रैलियों के माध्यम से साल में दो बार की जाएगी।

अग्निपथ योजना योग्यता

इस स्कीम के तहत 10वीं और 12वीं पास छात्र और छात्राएं आवेदन कर सकेंगे।

अग्निपथ योजना फॉर्म कब भरे जायेगे


इस योजना के तहत पहली भर्ती प्रक्रिया 90 दिनों के अंदर शुरू करने की योजना है और पहला बैच 2023 में आएगा। रक्षा मंत्रालय ने भारतीय सेना, भारतीय वायु सेना और भारतीय नेवी में भर्तियों के लिए इस नई योजना को लांच किया है।

अग्निवीरों की सैलरी कितनी होगी?


Agnipath योजना के तहत अग्निवीरों की सालाना सैलरी 4.76 लाख रुपये होगी. चौथे साल में यह सैलरी बढ़कर 6.92 लाख रुपये हो जाएगी. इसके अलावा रिस्क और हार्डशिप पैकेज अलग से दिया जाएगा. सेना में 4 साल की सेवा पूरी करने के बाद करीब 11.7 लाख रुपये एकमुश्त ब्याज समेत दिया जाएगा. यह पैसा इनकम टैक्स के दायरे से बाहर होगा.

चार साल नौकरी के बाद क्या होगा?


इस तरह चुने गए कैंडिडेट्स, अग्निवीर के तौर पर 4 साल तक सेना में काम करेंगे. चार साल की सेवा के बाद अग्निवीर सेना की नौकरी छोड़ देंगे. इसके बाद वे समाज में एक स्किल्ड नागरिक के तौर पर वे अनुशासित जीवन जी सकेंगे. मेरिट के आधार पर और सेना की जरूरत के हिसाब से 25 फीसदी अग्निवीरों को रेगुलर कैडर में समायोजित कर लिया जाएगा. कहा जा रहा है कि अन्य नौकरियों में उन्हें प्राथमिकता भी दी जाएगी.

शहीद या हादसे का शिकार होने पर क्या होगा?


आर्मी चीफ जनरल मनोज पांडे ने बताया कि अगर इस सेवा के दौरान कोई जवान शहीद होता है तो उसके परिवार को पूरा Insurace कवर मिलेगा. इसके अलावा, शहीद के परिवार को सेवा निधि समेत लगभग एक करोड़ रुपये दिए जाएंगे. इसके अलावा, शहीद की बची हुई सेवा की पूरी सैलरी भी परिवार को मिलेगी. सेवा के दौरान अगर जवान दिव्यांग हो जाते हैं तो दिव्यांगता के प्रतिशत के हिसाब से करीब 44 लाख रुपये मिलेंगे. सेवा निधि के अलावा बची हुई सेवाकाल की पूरी सैलरी भी जवान को दी जाएगी.

अग्निपथ योजना क्‍या है?

आर्मी, एयरफोर्स और नेवी में भर्ती के लिए रक्षा मंत्रालय ने नई प्रक्रिया अपनाई है। इसे ‘अग्निपथ’ नाम दिया गया है। नए सैनिकों को ‘अग्निवीर’ कहा जाएगा।

अग्निपथ योजना के तहत नई भर्ती कब शुरू होगी?

पहली रैली 90 दिन के भीतर शुरू हो जाएगी। पहला बैच 2023 में आएगा।

अग्निवीरों की सैलरी कितनी होगी?

Agnipath योजना के तहत अग्निवीरों की सालाना सैलरी 4.76 लाख रुपये होगी

अग्निपथ योजना योग्यता

10वीं और 12वीं पास

Join Telegram ChannelJoin Now
Join WhatsApp GroupJoin Now

2 thoughts on “Agneepath Yojana 2022 | अग्निपथ योजना 2022”

Leave a Comment

error: Content is protected !!